अन्ना मणी के बारे मे जानकारी Anna mani information in Hindi

अन्ना मणी के बारे मे जानकारी Anna mani information in Hindi

दोस्तो आज गुगल अपने डुडल के जरीये अण्णामनी जी का जनमदिन मना रहा है

चलो आज के आर्टिकल मे हम यह जानते है कयह अन्नामणी आखिर कौन है और गुगल अपने डुडल के जरीये इनका जनमदिन क्यो मना है

1)अन्ना मणी कौन है?

अन्ना मणी यह भारत देश की एक मशहुर भौतिक विज्ञानी तथा मौसम विज्ञानी थी.इन्हे वेदर वामन आँफ इंडिया के नाम से लोग जानते है

सबसे पहले अन्नामणी ने भारत के मौसम विज्ञान क्षेत्र के उपमहानिदेशक के पद से अपना इस्तीफा दिया बाद मे उन्होने रमन अनुसंधान केंद्र मे एक अतिथी प्रोफेसर बन के भी कई सालो तक काम किया था.

अन्ना मनी ने अब तक मौसम संबंधी उपकरणो के विभाग मे अपने बहुत सारे योगदान दिए है इस क्षेत्र मे उन्होने अब तक काफी रिसर्च भी किए है

इसके अलावा उन्होने ओझोन,विकिरण तथा पवन उर्जा मापन के उपर अपने बहुत सारे पत्र भी अब तक प्रकाशित किए है

अन्नामणी जी का शुरूवाती जीवन –

● अन्ना मणी जी का जनम केरला के एक पिरमाडे मे एक ईसाई कुटुंब मे हुआ था

● अन्नामणी जी के पिता एक सिव्हील इंजीनियर थे.अन्नामणी जी अपने सारे आठ भाई बहणो मे अपने परिवार की सातवी संतान थी.

● अन्नामणी जी यह बचपण से ही बहुत ही जिज्ञासु स्वभाव की थी वेकोम सत्याग्रह के वक्त यह महात्मा गांधी जी की सारी गतिविधिया देखकर उनके व्यक्तीमत्व से बडी प्रभावित हुई थी.इसी लिए स्वदेशी के पुरस्कार के लिए अण्णामनी जी ने सारे खादी के कपडे पहनना चालु कर दिया था.

See also  QCVM Machine म्हणजे काय? | What is QCVM Machine?

● अन्नामणी जी का जन्म एक ऐसे परिवार मे हुआ था जहा शुरू से ही लडकियो को शादी कर के ससुराल जाना है पढाई करने की कोई जरूरत नही यह माना जाता था और लडको को उच्च शिक्षा के लिए प्रेरित किया जाता था

● अन्नामणी जी ने अपने शुरूवाती दिनो मे ही बहुत सारी किताबो को पढ लिया था लगबग उनकी उर्म सिर्फ आठ साल की थी तभी उन्होने सार्वजनिक पुस्तकालय जाकर मल्याळम भाषा मे लिखी हुई सारी किताबे पढ ली थी इतना ही नही उन्होने बारा साल की उमर तक बहुत सारी अंग्रजी किताबो को भी पढ डाला था.

● जब उनका आंठवा जन्मदिन उनके घर मे मनाया जा रहा था तो उन्होने परिवार की तरफ से उन्हे उपहार स्वरूप मे दिए जा रहे हिरे की बालिया को लेने से साफ इंकार कर दिया था.और उसकी जगह उन्होने इनसाईक्लोपीडीया ब्रिट्टानिका इस किताब के सेट को चुना था

● इससे हमे चलता है की उन्हे पढने मे कितनी अधिक रूची थी

2) अन्नामणी का पुरा नाम क्या है?

अन्ना मणी जी का पुरा नाम अन्ना मोदीयल मणी है

3) अन्नामणी जी का जन्म कब और कहा हुआ था?

अन्नामणी जी का जन्म 1918 मे 23 आँगस्ट को पिरमाडे केरल मे यहा हुआ था

4) अन्नामणी जी की मृत्यु कब और कैसे हुई?
उनकी मृत्यु किस कारण और कहा से हुई थी?

अन्नामणी जी का देहांत सोला अगस्त 2001 को लगभग उनकी 82 साल की उम्र होने पर हुआ था उनका देहांत हार्ट अटँक आने की वजह से तिरुवनंतपुरम केरला मे हुआ था

5) अन्नामणी जी की शिक्षा –

See also  भारतातील राज्य राजधानी व स्थापना -How Many States In India Marathi

● अन्नामणी जी की पढाई बी एस्सी आँनर्स तक हुई थी उन्होने मद्रास के पचैयप्पा काँलेज,मे अपनी पढाई पुरी की थी

● और उन्होने बंगलौर के भारतीय विज्ञान केंद्र मे
स्काँलरशिप ले के रिसर्च किए

● उन्होने लंडन के इंपिरीअल काँलेज मे भौतिक शास्त्र की अपनी पढाई पुरी की थी

अन्ना मणी जी का करिअर –

● अपनी स्नातक की पढाई पुरी होने के बाद अन्नामणी जी ने प्रो सिव्ही रमन इनके अंडर काम किया इस दौरान उन्होने रूबी हिरे इन दोनों के आँप्टीकल गुणो पर रिसर्च भी किया था

● अन्नामणी जी ने अबतक कुल पाच शोध पत्रो का लेखन किया है इसके साथ उन्होने अपने पीएचडी के प्रबंध को भी प्रस्तुत किया था पर उनके पास भौतिक इस विषय की मास्टर डिग्री नही थी इसलिए उन्हे पीएचडी की डिग्री प्रदान नही की गयी

● उन्होने मोसम संबंधित उपकरणो पर भी अपने कही सारे शोध पत्रो का प्रकाशन किया था

● अन्नामणी जी यह चाहती थी की अपना भारत देश मौसम यंत्रो मे स्वतंत्र हो जाए

● विकिरण का मापन करने के हेतु उन्होने स्टेशनो का एक नेटवर्क बनाया था बंगलौर मे उन्होने एक छोटीसी कार्यशाला स्थापित की जिसमे बनाए उपकरणो का मुल हेतु हवा की गती को मापना तथा सौर ऊर्जा का मापन करना यह था

● इसके साथ अण्णा मनी जी ने ओझोन मापन उपकरण के उपक्रम पर भी कार्य किया वह ओझोन असोसिएशन की मेंबर थी अण्णा मनी जी ने थुंबा राँकेट लाँचिंग की सुविधा पर एक इंस्टुमेंट टाँवर,मौसम की जानकारी प्राप्त करने के लिए वेधशाला को भी खडा किया था

अण्णामनी जी कौन कौन से आंतरराष्टीय तथा वैज्ञानिक संघटनो से जुडी हुई थी?

See also  नरेगा जॉब कार्ड ची नवीन लिस्ट आताच चेक करा –Nrega Job Card List 2023

● इंडियन नँशनल सायन्स अकँडमी

● अमेरिकन मौसम विज्ञान सोसायटी

● सौर ऊर्जा की इंटरनेशनल सोसायटी

● विश्व मौसम विज्ञान संघटन

अण्णामनी जी को प्राप्त हुई उपलब्धिया तथा पुरस्कार –

● आज 22 अगस्त को गुगलने अपने डुडल के जरीये उनकी १०४ वे जयंती को मनाया है

अण्णमनी जी की किताबे –

● भारत देश मे किया गया पवन उर्जा संसाधन का सर्वेक्षण

● भारत देश मे सौर विकिरण

● दी हँडबुक आँफ सोलर रँडिएशन डेटा फाँर इंडिया

6) अन्नामणी जी किस देश की नागरीक थी?

अन्नामणी जी भारत देश की नागरीक थी

7) अन्नामणी जी किस धर्म की थी?

अन्नामणी जी का धरम ईसाई था

8) अन्नामनी जी पेशे से कौन थी?

अन्नामणी जी पेशे से भारत की एक मशहुर भौतिक तथा मौसम विज्ञानी थी

9) अन्नामणी जी के बालो का आंँखो रंग क्या था?

अन्नामणी जी के बालो का और आंँखो का रंग भी काला था

10) क्या अन्नामनी जी शादी शुदा थी?

नही अन्नामणी जी की शादी नही हुई थी

2 thoughts on “अन्ना मणी के बारे मे जानकारी Anna mani information in Hindi”

Comments are closed.